हरप्पा के लोग मांश खाते थें, हरियाण मे मिली भुने हुए मांश की हड्डियां

भारत मे मांस खाने का प्रचलन पुराना है, इसे सिद्ध करने के लिए हमरे धार्मिक पुस्तकों मे पूर्ण साक्ष्य मौजूद हैं| उन सब मे जो पुस्तक सबसे ऊपर आती है, वह है ऐतरेय ब्राह्मण, जिसके द्वितीय पंचिका के अध्याय प्रथम और द्वितीय मे पशुवों के बलि देने का संपूर्ण विवरण

अफ्रीका नही, यूरोप है मनुष्यों का जन्म स्थान, बैज्ञानिकों को मिले नए साक्ष्य

ये बात हम सभी जानते या पढ़ते रहे हैं की, अफ्रीका ही मानव का उद्गम स्थल है , अफ्रीका के इथियोपिया और चाँद जैसे देशों में मिले पूर्व मानव के जीवाश्म इसे सिद्ध भी करते रहे हैं | लेकिन हाल ही में यूरोप में मिले नए जीवाश्म, हमें हमारे उद्गम

मदुरै (तमिलनाडु) में मिले 2000 साल पुराने शहर के अवशेष

तमिल भाषा में लिखे गये ग्रंथों में मदुरै के पास एक शहर के होने के प्रमाण हैं, लेकिन कोई पुरातत्विक साक्ष्य नही होने के कारण कुछ इतिहासकारों ने इसे महज एक कोरी कल्पना करार दिया था | संगम युग, जो की 400 BCE से २०० AD तक चला, दक्षिण भारत