नए अनुमान के अनुशार मंगल पर जीवन काफी लम्बे समय के लिए था

आज से लाखों साल पहले मंगल ग्रह पर भी जीवन था, इस बात के साबुत आज भी मंगल पर मौजूद है |लेकिन कितने समय के लिए और कब वह समय था जब मंगल जीवन के लिए अनुकूल था, यही वह पहेली है जो आज भी विज्ञानियों को परेशान करती रहती है |

नासा ने क्यूरोसिटी नाम का एक रोवर सन २०१२ में इसी उद्द्देश्य से मंगल के सतह पर उतरा, जो वहा पर स्थित गैल नाम के एक बड़े गड्ढे की सतहों का परिक्षण कर रहा है, यह गड्ढा पहले शुद्ध नीले पानी का एक बहुत बड़ा झील था| शोधकर्ताओं ने इस रोवर को इस गड्ढे में इस लिए उतरा की हो सकता है की इस पुराने सुख चुके झील के सतहों का अध्ययन कर, उन्हें विलुप्त हो चुके जीवन का कोई सुराग मिले सके|

क्यूरोसिटी वहा पे जीवन के नष्ट होने के बाद होने वाले व्यापक सातही परिवर्तनों का अध्ययन कर नए साक्ष्य जुटाने का काम कर रहा है | वैज्ञानिकों ने जब रोवर के भेजे डाटा का अध्यन किया तो कुछ नए तथ्य सामने आये, उनके अनुशार आज से ३.१ से ३.८ बिलियन साल पहले मंगल ग्रह पर जीवन के लिए अनुकूल वातावरण उपलब्ध था, लेकिन आश्चर्य जनक बात यह है की जब ३ बिलियन साल पहले मंगल पर जीवन नष्ट हुआ , यह वही समय था जब पृथ्वी पर जीवन प्रथम उद्गम हुआ |

 

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *